Home देश पाकिस्तान पहुंची अंजू ने धर्म परिवर्तन कर प्रेमी से किया निकाह; पिता...

पाकिस्तान पहुंची अंजू ने धर्म परिवर्तन कर प्रेमी से किया निकाह; पिता बोले- कोई वास्ता नहीं, उसे वहीं मरने दो

75
0
अंजू और नसरुल्लाह

मध्यप्रदेश के ग्वालियर की रहने वाली 35 वर्षीय अंजू थॉमस ने पाकिस्तान में अपने प्रेमी से शादी कर ली है। इससे पहले उसने इस्लाम कबूल कर अपना नाम फातिमा रख लिया। उसने सोशल मीडिया फ्रेंड नसरुल्लाह से दीरबाला डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में निकाह भी कर लिया है। मंगलवार को उसने प्रेमी के साथ प्री वेडिंग शूट के वीडियो भी शेयर किए। निकाह की खबर सुनकर उसके पिता गया प्रसाद थॉमस का बीपी बढ़ गया। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने कहा, ‘अंजू मेरे लिए मर गई।’

बता दें कि अंजू अपने पति और 2 बच्चों को छोड़कर 21 जुलाई को राजस्थान के भिवाड़ी से पाकिस्तान के दीरबाला पहुंची थी। उसके पाकिस्तान पहुंचते ही यह साफ हो गया था कि वह अपने प्रेमी नसरुल्लाह से शादी करने के लिए गई है। 30 दिन के वीजा पर पाक पहुंची अंजू ने अपने परिवार से 3-4 दिन में लौटकर आने की बात कही थी।

अंजू के पिता गया प्रसाद थॉमस ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि अब मैं क्या कह सकता हूं। जिस लड़की को अपने बच्चों और पति का ख्याल नहीं आया, वह किसकी हो सकती है। जाना था तो तलाक लेकर जाती। अब उसके बच्चों का क्या होगा? जब उनसे पूछा गया कि क्या वे अपनी बेटी को वापस लाने के लिए कोई अपील करेंगे? तो उन्होंने कहा कि मुझे उससे कोई लेना-देना नहीं है। उसे वहीं मरने दिया जाए।

अंजू उर्फ फातिमा ने मंगलवार को अपने पाकिस्तानी प्रेमी के साथ सोशल मीडिया पर कई वीडियो शेयर किए हैं। इनमें वह पर्यटन स्थलों की सैर करती दिख रही है। उसने इस्लामिक लिबास पहन रखा है। अंजू ने निकाहनामा के शपथ-पत्र में लिखा कि वह अपनी मर्जी से इस्लाम धर्म अपना रही है। उस पर किसी का दबाव नहीं है।

उसने शपथ पत्र में लिखा.. मैं शपथपूर्वक घोषणा करती हूं कि मेरा पूर्व नाम अंजू था और मैं ईसाई धर्म से हूं। मैंने बिना किसी दबाव के सहर्ष इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया है। इसमें किसी की ओर से कोई जोर-जबरदस्ती नहीं है। इसके लिए मैं अपने देश भारत से यहां पाकिस्तान आई हूं। मिन मुखलफ़ा (प्रार्थी) ने गवाहों के सामने, मुहम्मदन शरिया के अनुसार 10 तोला सोने सहित दहेज के बदले स्वेच्छा से सामी नसरुल्लाह से शादी की है। नसरुल्लाह मेरे कानूनी शौहर हैं। मिन मुखलफ़ा ने अपनी इच्छा और मंशा के मुताबिक नसरुल्लाह से शादी कर ली है। यह मेरा कथन सत्य और सही है तथा मैंने इस संबंध में कुछ भी छिपाकर नहीं रखा है।

इस मामले में अधिवक्ता नितिन कुमार शर्मा का कहना है कि अंजू और नसरुल्लाह की शादी नाजायज है। जब तक आप एक शादी से तलाक नहीं लेते, आपको दूसरी शादी करने का अधिकार नहीं है। वह पाकिस्तान पहुंच गई है। नाम बदल लिया है, लेकिन अभी भी वह भारतीय नागरिक है और उस पर भारतीय कानून ही लागू होंगे। उसके परिवार वाले आईपीसी की धारा 494 के तहत कार्रवाई की मांग कर सकते हैं।

जानकारी के लिए बता दें कि ग्वालियर के टेकनपुर में बौना गांव के थापा मोहल्ला निवासी गया प्रसाद की 5 बेटियां और 1 बेटा है। इनमें सबसे बड़ी बेटी अंजू है, जिसका जन्म 25 दिसंबर 1988 को ग्वालियर में हुआ था। शुरुआत से ही अंजू उत्तर प्रदेश के जालौन स्थित माधौगढ़ में अपने नाना-नानी के साथ रहती थी। तकरीबन 17 साल पहले अंजू की शादी भिवाड़ी, अलवर राजस्थान निवासी अरविंद कुमार के साथ हुई थी। दोनों के एक 13 साल की बेटी और एक 5 साल का बेटा भी है। गत 21 जुलाई को वह अपने पति और दोनों बच्चों को छोड़कर अपने प्रेमी से मिलने के लिए पाकिस्तान चली गई थी।

Previous articleHarmanpreet Kaur: भारतीय कप्तान हरमनप्रीत पर लगा दो मैच का प्रतिबंध, मैच में स्टंप तोड़ना पड़ा भारी
Next articleKargil Vijay Diwas: मध्य प्रदेश के इस जवान ने अकेले छुड़ा दिए थे पाकिस्तान के छक्के