Home राज्य Nuh Violence: नूंह हिंसा में 6 की मौत, अब तक 116 गिरफ्तार,...

Nuh Violence: नूंह हिंसा में 6 की मौत, अब तक 116 गिरफ्तार, दिल्ली NCR पहुंचा प्रदर्शन

79
0
Nuh Violence

Nuh Violence: हरियाणा के नूंह में सोमवार को हुई दो समुदायों के बीच हिंसक झ़ड़प को लेकर प्रशासन अलर्ट है, नूंह में आज भी कर्फ्यू जारी है. उपद्रवो को देखते हुए जिला धारा 144 लागू की है. आज भी इंटरनेट सेवा बंद है. इस मामले में लगातार गिरफ्तारी का दौर जारी है, पुलिस ने अब तक 116 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है तो वहीं इस हिंसा में मरने वाली की संख्या 6 हो गई है.

BSP प्रमुख मायावती ने उठाया सवाल

BSP प्रमुख मायावती ने कहा कि, हरियाणा में संप्रदायिक दंगों का भड़कना और इसका गुरुग्राम और अन्य क्षेत्रों में बिना रोक-टोक फैलना साबित करता है कि मणिपुर के तरह ही हरियाणा राज्य में भी क़ानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त है और वहां की सरकार का खुफिया तंत्र भी निष्क्रिय है. अगर राज्य सरकार प्रस्तावित यात्रा, जुलूस को सुरक्षा नहीं दे सकती तो वे ऐसे आयोजनों को अनुमति क्यों देती हैं?.

हरियाणा के नूंह की घटना पर नेशनल कॉन्फ्रेंस (NC) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने बताया कि, “नूंह में जो कुछ भी हुआ, वह दिल दहला देने वाला है. धर्म को लेकर लड़ाई भारत के लिए अच्छी नहीं है. भारत सबका देश है, यहां हर धर्म को बढ़ने का अधिकार है.”

कांग्रेस का BJP पर हमला

हरियाणा के सांसद दीपेंद्र एस हुडा ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, “यह सरकार की ओर से एक प्रशासनिक विफलता है जिसके कारण यह घटना हुई, अगर उन्होंने समय पर कार्रवाई की होती और पुलिस तैनात की होती, तो यह स्थिति नहीं होती. डिप्टी सीएम द्वारा दिए गए बयान में उन्होंने यह भी कहा प्रशासनिक विफलता के बारे में बात की.”

Nuh Violence में डिप्टी सीएम ने कहीं ये बात

घटनाओं पर कल हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा, “यात्रा आयोजकों ने जिला प्रशासन को यात्रा के बारे में पूरी जानकारी नहीं दी. इस वजह से यह घटना हुई. घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.”

Delhi NCR में VHP का प्रदर्शन

नूंह हिंसा के खिलाफ बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने दिल्ली के घोंडा चौक पर विरोध प्रदर्शन किया; भीड़ को नियंत्रित करने के लिए जगह-जगह पुलिस बैरिकेडिंग की गई. विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने हरियाणा के नूंह में हाल ही में हुई हिंसक झड़पों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है.

Previous articleऑनलाइन गेमिंग पर 28% कर लगाने पर आज निर्णय लेगी जीएसटी परिषद
Next articleDefamation Case: SC में सुनवाई से पहले राहुल का हलफनामा- मोदी सरनेम मामले में दोषसिद्धि पर लगे रोक