Home देश Prabha Atre: किराना घराने की जानी-मानी गायिका डॉक्टर प्रभा अत्रे ने दुनिया...

Prabha Atre: किराना घराने की जानी-मानी गायिका डॉक्टर प्रभा अत्रे ने दुनिया को कहा अलविदा, पीएम मोदी ने जताया शोक

Prabha Atre: किराना घराने की जानी- मानी संगीतकार डॉ. प्रभा अत्रे का शनिवार 13 जनवरी को उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है. शनिवार सुबह तड़के सोते समय पुणे स्थित घर पर उन्हें दिल का दौरा पड़ा

49
0
prabhaatre

Prabha Atre: किराना घराने की जानी- मानी संगीतकार डॉ. प्रभा अत्रे का शनिवार 13 जनवरी को उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है. शनिवार सुबह तड़के सोते समय पुणे स्थित घर पर उन्हें दिल का दौरा पड़ा. इसके बाद उन्हें उपचार के लिए पुणे के दीनानाथ मंगेथकर अस्पताल में ले जाया. डॉक्टरों ने बताया कि अस्पताल पहुंचने से पहले ही उनका देहांत हो चुका था. आगे की जानकारी के लिए बता दें कि प्रभा अत्रे के परिजन अमेरिका में हैं, इसलिए उनका अंतिम संस्कार परिजन के भारत आने के बाद किया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शोक जताते हुए अपने अधिकारिक ट्वीटर पर ट्वीट करते हुए लिखा कि, “डॉ. प्रभा अत्रे जी भारतीय शास्त्रीय संगीत की एक महान हस्ती थीं, जिनके काम की न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर में प्रशंसा हुई. उनका जीवन उत्कृष्टता और समर्पण का प्रतीक था. उनके प्रयासों ने हमारे सांस्कृतिक ताने-बाने को बहुत समृद्ध किया है. उनके निधन से दुख हुआ . उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति संवेदनाएं. ओम शांति.

संगीतकार डॉ प्रभा अत्रे का जन्म कब हुआ

प्रभा अत्रे एक भारतीय शास्त्रीय गायिका थी, जो हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत परंपरा में अपने योगदान के लिए प्रसिद्ध हैं. उनका जन्म 13 सितंबर, 1932 को पुणे, महाराष्ट्र, भारत में हुआ था. प्रभा अत्रे भारतीय शास्त्रीय संगीत के क्षेत्र में, विशेषकर ख्याल गायन की शैली में एक जानी मानी हस्ती थी.

उन्होंने संगीत की प्रारंभिक शिक्षा अपने पिता शंकर श्रीपाद बोडस से प्राप्त की और बाद में सुरेशबाबू माने और हीराबाई बडोडेकर की शिष्या बन गईं. उनकी गायन शैली की विशेषता इसकी मधुर समृद्धि, जटिल लयबद्ध पैटर्न और भावनात्मक गहराई है. प्रभा अत्रे को विभिन्न रागों की खोज और शास्त्रीय संगीत के प्रति अपने नवीन दृष्टिकोण के लिए भी जाना जाता है.

एक कलाकार के रूप में अपनी उपलब्धियों के अलावा, प्रभा अत्रे एक कुशल संगीतज्ञ, संगीतकार और लेखिका हैं. उन्होंने संगीत पर किताबें लिखी हैं और भारतीय शास्त्रीय संगीत को बढ़ावा देने और संरक्षित करने में सक्रिय रूप से शामिल रही हैं.

इन वर्षों में, प्रभा अत्रे को संगीत के क्षेत्र में उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए कई पुरस्कार और सम्मान मिले हैं, जिनमें प्रतिष्ठित संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार और भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मानों में से एक पद्म भूषण शामिल हैं. कला के प्रति उनके समर्पण और भारतीय शास्त्रीय संगीत की दुनिया पर उनके प्रभाव ने उन्हें संगीत समुदाय में एक सम्मानित व्यक्ति बना दिया है.

इसे भी पढ़े… India Alliance: कौन बनेगा इंडिया गठबंधन का संयोजक? नीतीश कुमार ने किया इनकार, जानिए खरगे को लेकर क्या है अपडेट

Previous articleIndia Alliance: कौन बनेगा इंडिया गठबंधन का संयोजक? नीतीश कुमार ने किया इनकार, जानिए खरगे को लेकर क्या है अपडेट
Next articlePapaya Side Effects: अगर आप हैं इस बीमारी के शिकार तो पपीता से हो जाएं सावधान! जानिए क्या है वो बीमारी