Home राज्य West Bengal: 9 घंटे पूछताछ के बाद अभिषेक ने BJP पर किया...

West Bengal: 9 घंटे पूछताछ के बाद अभिषेक ने BJP पर किया तीखा वार, INDIA गठबंधन को लेकर कही ये बात

41
0
Abhishek Banerjee

West Bengal: पश्चिम बंगाल में कथित स्कूल भर्ती घोटाले की जांच के सिलसिले में ED ने बुधवार को कोलकाता स्थित एजेंसी के कार्यालय में तृलमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी से करीब 9 घंटे की पूछताछ की. बनर्जी सुबह करीब 11 बजे कोलकाता में ED के कार्यालय पहुंचे तथा 8:30 बजे के बाद निकले. इसके बाद वो मीडिया से बात चीत की जिसमें वो कई मुद्दो को लेकर बयान दिए.

ED द्वारा पूछताछ के बाद तृणमूल कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा कि, “INDIA गठबंधन की समन्वय समिति की बैठक आज होने वाली थी इसलिए मुझे ED द्वारा आज समन किया गया. मैं समिति का सदस्य हूं, आज सुबह 11:30 मुझे बुलाया गया, इससे यह स्पष्ट होता है कि भाजपा यह सब देख कर मुझे रोकने का प्रयास ED के माध्यम से कर रही है मैं इसका फैसला जनता के ऊपर छोड़ता हूं.”

9 घंटे पूछताछ के बाद कुछ नहीं निकला: सांसद अभिषेक बनर्जी

ED द्वारा पूछताछ के बाद तृणमूल कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा कि, “मैंने बार-बार कहा है कि वे अपना और मेरा दोनों का वक्त बर्बाद कर रहे हैं. एजेंसी के अधिकारियों की भी ग़लती नहीं है वे अपनी ड्युटी कर रहे हैं. 9-10 घंटे की पूछताछ के बाद भी शून्य निष्कर्ष निकला होगा, पहले जितनी बार भी पूछताछ के लिए बुलाया गया उसका भी यही निष्कर्ष रहा है. जो राजनीतिक रूप से नहीं लड़ पाते वे इस तरह से एजेंसी का दुरुपयोग करते हैं. जितनी बार हमें परेशान किया जाएगा जनता तृणमूल कांग्रेस को समर्थन देगी.”

INDIA गठबंधन को लेकर बोले TMC सांसद

तृणमूल कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा कि, “मैं सबका धन्यवाद करता हूं और मैं खुश हूं कि आज वह बैठक (INDIA गठबंधन के समन्वय समिति की बैठक) हुई. आने वाले दिन में यह लड़ाई जारी रहे इसकी आशा है. जो समिती बनी है उसमें से नोटिस सिर्फ तृणमूल पार्टी से मुझे आया, इससे पता चलता है कि उस गठबंधन को सकार करने में तृणमूल कांग्रेस की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है. मुझे आज जान बूझकर समन किया गया. मैं ED के सामने पेश हुआ और उनके प्रश्नों के उत्तर दिए.”

Previous articleHindi Diwas 2023: इस भाषा का नाम हिंदी कैसे पड़ा, भारत के अलावा किन देशों में बोली जाती यह भाषा?
Next articleMP Election 2023: चुनाव से पहले PM मोदी ने एमपी को दिया सौगात, बोले- आज का भारत तेजी से बदल रहा